sms
jokes
story
poem
quotes
good night sms
SMS KI DUNIYA ME AAP KA SWAGAT HAI. | You can send your sms, jokes, story, poem etc.
 
  • 1
  • 2
 

लक्ष्य नहीं भूलूंगा में अपना

 

लक्ष्य नहीं भूलूंगा में अपना,
चाहे कितनी भी रुकावट आये,
हर रुकावट को पार करूँगा,
दृढ रहेगा मेरा यह विशवास,
सफलता कभी मिले न मिले,
लक्ष्य नहीं भूलूंगा में अपना.

सीखूंगा हर गलती से में अपनी,
आगे बढूंगा हर घडी मे,
लम्हा लम्हा कहेगा मुझसे -
‘ मंज़िल तुझसे दूर नहीं,’
खुद से तय करूँगा इस मंज़िल कि राह,
सहारा कोई मिले न मिले,
लक्ष्य नहीं भूलूंगा में अपना.

ख्वाब तो हकीकत कि पहली सीढ़ी है,
और मेहनत है आगे कि दास्ताँ,
हार - जीत तो चलती रहेगी,
हार से न घबराउंगा,
हर वक़्त धीरज रखूँगा,
जीत कोई मिले न मिले,
लक्ष्य नहीं भूलूंगा में अपना.

मेहनत करूँगा में हर एक दिन,
कामयाबी कदम चूमेगी एक न एक दिन,
थक् ज़रूर सकता हूँ,
लेकिन डगमगाऊँगा नहीं,
हर परिस्थिति में अटल रहूँगा,
साथी कोई मिले न मिले,
लक्ष्य नहीं भूलूंगा में अपना.

.................................................................................................................................

 

 

जो बीत गई सो बात गई

 

जीवन में एक सितारा था
माना बेहद वो प्यारा था
यह डूब गया तो डूब गया
अम्बर के आनन को देखो
कितने इसके तारें टूटे
कितने इसके प्यारे छूटे
जो छुट गए फिर कहा मिले
पर बोलो टूटे तारो पर
कब अम्बर शोक मनाता हैं
जो बीत गई सो बात गई

 

अग्निपथ! अग्निपथ! अग्निपथ!

 

वृक्ष हो भले खड़े

हो घने , हो बड़े

एक पत्र छाँह भी

मांग मत ! मांग मत ! मांग मत !

अग्निपथ ! अग्निपथ ! अग्निपथ !

 

तू न थकेगा कभी ,

तू न थमेगा कभी

तू न मुड़ेगा कभी ,

कर शपथ ! कर शपथ! कर शपथ !

अग्निपथ! अग्निपथ! अग्निपथ!

 

यह महान दृश्य हैं,

चल रहा मनुष्य हैं,

अश्रु , स्वेद ,रक्त से

लथ-पथ! लथ-पथ ! लथ-पथ !

अग्निपथ! अग्निपथ! अग्निपथ!

 

.................................................................................................................................

 

 

हिम्मत करने वालो की हार नहीं होती।

 

हिम्मत करने वालों की हार नहीं होती
लहरों से डर कर नैय्या पार नहीं होती।

नन्ही चींटी जब दाना लेकर चलती हैं
चढ़ती दीवारों पर सौ बार फिसलती हैं
मन का विश्वास रगों में साहस भरता हैं
चढ़ कर गिरना , गिर कर चढ़ना न अखरता हैं
आखिर उसकी मेहनत बेकार नहीं होती
कोशिश करने वालो की हार नहीं होती
डुबकियाँ सिन्धु में गोताखोर लगाता हैं
जा जा कर खाली हाथ लौट आता हैं
मिलते न सहज मोती पानी में
बढ़ता दूना उत्साह इसी हैरानी में
मुट्ठी उसकी खाली हर बार नहीं होती
हिम्मत करने वालो की हार नहीं होती।
असफलता एक चुनौती हैं , स्वीकार करो
क्या कमी रह गयी , देखो और सुधार करो
जब तक न सफल हो,नींद चैन से त्यागो तुम
संघर्ष करो मैदान छोड़ मत भागो तुम
कुछ किये बिना ही जय जयकार नहीं होती
हिम्मत करने वालो की हार नहीं होती।

.................................................................................................................................

...........................................................................................................................................................................................................................